Ads

रद्द हुआ 6 लाख डुप्लीकेट आधार, इसमें आपका आधार भी शामिल तो नहीं? पढ़ें पूरी खबर

नई दिल्ली: आधार कार्ड के दुरुपयोग को रोकने के लिए भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) लगातार काम कर रहा है। यूआईडीएआई भी गलत तरीके से बनाए गए आधार कार्ड को हटाने के लिए लगातार सक्रिय है। यूआईडीएआई ने देश में करीब छह लाख डुप्लीकेट आधार कार्ड रद्द कर दिए हैं। प्राधिकरण ने गलत तरीके से डुप्लीकेट आधार बनाने पर यह कार्रवाई की है। यह जानकारी इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने पिछले हफ्ते लोकसभा में दी थी।

चंद्रशेखर ने जानकारी दी थी कि यूआईडीएआई डुप्लीकेट आधार सत्यापन की प्रक्रिया को और अधिक कुशल बना रहा है और अब सत्यापन सुविधा के रूप में चेहरा भी जोड़ा गया है। डुप्लीकेट आधार के अलावा पेंशन सत्यापन के उद्देश्य से फेशियल रिकॉग्निशन लागू किया गया है। अब तक लगभग 1,00,000 पेंशनभोगियों को इस तकनीक से प्रमाणित किया जा चुका है।

आधार कार्ड अब एक बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तावेज बन गया है। अपने आधार कार्ड को सुरक्षित रखना बहुत जरूरी है। साथ ही यह भी जांच लें कि आपका आधार एक्टिव है या नहीं। इसके लिए समय-समय पर इसका सत्यापन करना चाहिए। आधार कार्ड को ऑनलाइन सत्यापित करना बहुत आसान है।

आधार का सत्यापन कैसे करें

अपना आधार सत्यापित करना बहुत आसान है। यह काम आप अपने स्मार्टफोन की मदद से घर बैठे आसानी से कर सकते हैं। आइए जानते हैं आधार वेरीफाई कैसे करें-

सबसे पहले यूआईडीएआई की वेबसाइट www.uidai.gov.in पर जाएं।

वेबसाइट पर ‘आधार सेवाएं’ के तहत ‘वेरिफाई आधार (आधार) नंबर’ पर क्लिक करें। ऐसा करते ही एक नया पेज खुल जाएगा।

नए पेज पर अपना 12 अंकों का आधार (aadhaar) नंबर और कैप्चा दर्ज करें।

यदि आधार संख्या वास्तविक है, तो वेबसाइट ‘आधार सत्यापन पूर्ण’ संदेश दिखाएगी। साथ ही अन्य विवरण भी दिखाया जाएगा। जैसे आपकी उम्र, आपके राज्य का नाम और आपके मोबाइल नंबर के अंतिम तीन अंक आदि।

यदि कई प्रयासों के बाद भी, आप आधार संख्या को सत्यापित करने में विफल रहते हैं, तो वेबसाइट यह दिखाएगी कि आपका आधार नंबर मौजूद नहीं है।

यदि आपका आधार सत्यापित नहीं है, तो आपको आवश्यक दस्तावेजों के साथ निकटतम आधार नामांकन केंद्र पर जाना होगा। आपके बायोमेट्रिक्स को फिर से सत्यापित किया जाएगा और यूआईडीएआई के डेटाबेस में दर्ज किया जाएगा। इसके लिए आपसे 25 रुपये के साथ 18 फीसदी की दर से जीएसटी वसूला जाएगा और आपका आधार अपडेट हो जाएगा।

Show More

KR. MAHI

CHIEF EDITOR KAROBAR SANDESH

Related Articles

Back to top button