Ads

घर बैठे जाना जा सकता है अपने पीएफ अकाउंट का बैलेंस

रायपुर : पीएफ (Provident Fund) अकाउंट का बैलेंस कितना है, पेंशन फंड में कितनी राशि जा रही.ऐसे कई सवाल कर्मचारी के पास होते हैं। जो कर्मचारी जागरुक होते हैं, वे विभिन्न माध्यमों से अपने पीएफ अकाउंट के बारे में जानकारी पता कर लेते हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे तरीके बताने जा रहे हैं, जिनके जरिए आप घर बैठे मिनटों में अपने पीएफ अकाउंट का बैलेंस जान सकते हैं।

ईपीएफ वेबसाइट

ईपीएफ वेबसाइट के माध्यम से भी अपने पीएफ अकाउंट का बैलेंस जाना जा सकता है। इसके लिए कर्मचारी को www.epfindia.gov.in पर जाना होगा। अब ‘Our Services’ टैब में जाकर ‘For Employees’ पर क्लिक करना होगा। इसके बाद ‘Member Passbook’ पर क्लिक करना होगा। अब स्क्रीन पर एक नया पेज खुलकर आएगा। अब कर्मचारी को यूएएन (Universal Account number) का और पासवर्ड डालकर लॉग-इन करना होगा। इसके बाद आप अपनी ईपीएफ पासबुक देख पाएंगे। इसके लिए आपका यूएएन एक्टिव होना चाहिए। 

एसएमएस से

कर्मचारी सिर्फ एक एसएमएस कर अपने पीएफ अकाउंट का बैलेंस जान सकता है, लेकिन इसके लिए आपका यूएएन (Universal Account number) ईपीएफओ (Employee Provident Fund Organization) के साथ रजिस्टर्ड होना चाहिए। कर्मचारी को 7738299899 नंबर पर ‘EPFOHO UAN ENG’ एसएमएस भेजना होगा। यहां ENG अपनी पसंदीदा भाषा के पहले तीन अक्षर हैं। यह सुविधा दस भाषाओं में उपलब्ध है। कर्मचारी को यह एसएमएस रजिस्टर्ड मोबाइल से करना होगा। इससे कर्मचारी अपने पीएफ अकाउंट का बैलेंस और ताजा योगदान की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

उमंग ऐप्लिकेशन

उमंग ऐप्लिकेशन के जरिए भी कर्मचारी अपने पीएफ अकाउंट का बैलेंस जान सकता है। उमंग एक सरकारी ऐप्लिकेशन है, यहां विभिन्न सरकारी योजनाओं से जुड़ी सुविधाएं मिलती हैं। इस ऐप्लिकेशन पर सबसे पहले कर्मचारी को अपने फोन नंबर के जरिए रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। इसके बाद वे इस ऐप्लिकेशन के माध्यम से अपनी ईपीएफ पासबुक देख सकते हैं। साथ ही यहां क्लेम के लिए आवेदन भी किया जा सकता है और अपने क्लेम को ट्रैक भी किया जा सकता है।

मिस-कॉल से

कर्मचारी सिर्फ एक मिस कॉल कर अपने पीएफ अकाउंट की जानकारी पा सकते हैं, लेकिन इसके लिए भी कर्मचारी का यूएएन (Universal Account number) पोर्टल पर रजिस्टर्ड होना चाहिए। कर्मचारी 011-22901406 नंबर पर मिस-कॉल देकर अपने पीएफ अकाउंट के बैलेंस के बारे में जान सकते हैं। कर्मचारी को अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से यह मिस कॉल देनी होगी।

Show More

KR. MAHI

CHIEF EDITOR KAROBAR SANDESH

Related Articles

Back to top button