गौठानों में सप्ताह में एक दिन ‘‘डिजी पे‘‘ से भुगतान की मिलेगी सुविधा

गोधन न्याय योजना सहित अन्य योजनाओं के हितग्राहियों को गौठानों में मिलेगी नकद राशि

महासमुंद जिले की 84 गौठानों में सप्ताह में एक दिन ‘‘डिजी पे‘‘( वी.एल.ई.) के माध्यम से हितग्राहियों को नकद राशि के आहरण की सुविधा मिलेगी । मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. रवि मित्तल ने जिले के सभी मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जनपद पंचायत समस्त मुख्य नगरपालिका अधिकारियों को इसके लिए दिशा-निर्देशों जारी किया है । जारी पत्र में कहा गया है कि वी.एल.ई डिजि पे एप्लीकेशन के माध्यम से हितग्राहियों के खाते से नकद आहरण की सुविधा प्रदान करेंगे। जिन 84 गौठानों में यह सुविधा मिलेगी उनमें महासंमुद तहसील के सर्वाधिक 23 गौठान, बागबाहरा के 20, पिथौरा के 15 गौठान, सरायपाली विकासखंड और बसना नगर पंचायत के 13-13 गौठान शामिल, यह एक प्रकार का आधार इनेबल्ड पेमेंट सिस्टम (एप्स) है। नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एन.पी.सी.आई) द्वारा विकसित एक सिस्टम है, जो लोगों को आधार नंबर और उनके फिंगरप्रिंट/आईरिस स्कैन की मदद से वैरिफिकेशन करके माइक्रो-एटीएम द्वारा वित्तीय ट्रांजैक्शन करता है। इसके लिए हितग्राहियों का बैंक खाता आधार नंबर से लिंक होना अनिर्वाय है। बायोमेट्रिक उपकरण से पात्र हितग्राही के बैंक खाते से नकद आहरण की सुविधा मिलेगी । बशर्ते उनके खाते में जमा राशि हो।

मुख्य कार्यपालन अधिकारी डा.मित्तल द्वारा जारी पत्र के साथ विकासखंड/नगरीय निकाय/ सूची भी दी है। कहा है कि सप्ताह में एक दिन निर्धारित कर वी.एल.ई. की सेवा ली जा सकती है। जिस हेतु तिथि एवं समय का निर्धारण कर इनके बैठने के लिए समुचित व्यवस्था यथासंभव गौठान के समीप किया जाये। पत्र में यह भी कहा कहा गया है कि हितग्राहियों को भुगतान करते समय कोविड-19 के दिशा-निर्देशों का अनिवार्यत पालन किया जावे ।

शासकीय योजनाओं के हितग्राहियों की राशि गौठानों में ‘‘डिजी पे‘‘( वी.एल.ई.) के माध्यम से बैंक खाता धारक अपनी जरूरत की राशि प्राप्त कर सकेंगे । डिजी पे के माध्यम से चलता फिरता बैंक संचालित कर जरूरत अनुसार रूपए बैंक कस्टमर को आपूर्ति की जायेगी । इसके चलते अंदरूनी इलाकों में रहने वाले लोगों को बैंक से पैसे निकालने के लिए शहरों में आने की जरूरत नहीं पढ़ेगी। वह सप्ताह में एक दिन अपने इलाके गौठानों में ‘‘डिजी पे‘‘ ( वी.एल.ई.) के माध्यम से जरूरत की राशि नकद ले सकते है। कोराना संक्रमण के चलते लोग जब घरों से नहीं निकल पा रहे हैं तब उनकी जरूरतों के लिए बैंक से राशि ले जाकर डिजी पे ओर ग्राम स्तरीय उद्यमी (वीएलए) गौठानों में गो न्याय योजना, पेंशनधारी बुजुर्ग, मनरेगा, जनधन, किसान सम्मान निधि, अनुदान एवं अन्य राशि के भुगतान की बैंकिग सुविधाएं गौठानों में उपलब्ध होगी । ताकि लोगों को राशि आहरण हेतु बैंक तक नहीं जाना पडें ।


     

Show More

KR. MAHI

CHIEF EDITOR KAROBAR SANDESH

Related Articles

Back to top button