Ads

रॉबिन विश्वास को कैसे? मिला दस हजार का ऋण,पढ़ें पूरा खबर

अब रॉबिन को सब्जी व्यवसाय करने नहीं होगी कोई दिक्कत

दंतेवाड़ा : कोरोना वायरस के चलते हुए देश में हुए लॉकडाउन के बीच ऐसे लोगों को अपनी आजीविका चलाने के लिए बड़ी कठिनाईयों का सामन करना पड़ रहा है। ज्यादातर काम धंधे लोगों के ठप पड़े हैं. ऐसे में सबसे ज्यादा नुकसान रेहड़ी पटरी वालों को उठाना पड़ रहा है। इस कारण रेहाड़ी पटरीवालों के लिए राहत देने के लिए सरकार नई योजना लेकर आ चुकी है। दन्तेवाड़ा के मुख्य मार्ग रेल्वे क्रासिंग के पास, दैनिक बाजार में सब्जी बेचने वाले श्री राबिन विश्वास को दस हजार रूपये का ऋण प्राप्त हुआ है। इससे पहले लॉकडाऊन में राबिन विश्वास को कोई ज्यादा जमा पूंजी नही होने कारण सामान खरीदने एवं विक्री करने में काफी दिक्कतें होती थी। जब पीएमस्वनिधि योजना के बारे में निकाय द्वारा प्रचार-प्रसार किया गया। जैसे ही स्ट्रीट वेंडर राबिन विश्वास को योजना के बारे में पता चला तो उनके द्वारा ऑन लाईन आवेदन करवाया गया। आवेदन करने के एक सप्ताह के भीतर बिना गारंटी के सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, शाखा दन्तेवाड़ा ऋण स्वीकृत किया गया है।

प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि योजना (पीएम स्वनिधि) पूरे देश एवं प्रदेश के साथ-साथ नक्सली क्षेत्र जिला दक्षिण बस्तर दन्तेवाड़ा के नगरीय निकाय नगर पालिका परिषद्, दन्तेवाड़ा, में शुरू की गई है। योजना के तहत् नगरीय क्षेत्र में फुटपाथ पर फल, जुता-चप्पल, सब्जी, फैंसी, मनिहारी, कपड़ा ईत्यादि की दुकान लगाने वाले पथ विक्रेताओं को राष्ट्रीयकृत बैंकों एवं माइक्रो फायनेंस कम्पनी के माध्यम से 10 हजार रूपये का ऋण उपलब्ध करवाया जायेगा। पीएम स्वनिधि योजना का उद्देश्य कोरोना काल में फुटपाथ पर दुकान लगाने वाले विक्रेतओं को पुनः अपना व्यापार चालु करने में सहायता प्रदान करना है।

01 सितम्बर को कार्यालय नगरपालिका परिषद् दन्तेवाड़ा के सभा कक्ष में आयोजित टॉस्क फोर्स कमेटी बैठक में श्री लाल सिंह मरकाम मुख्य नगरपालिका अधिकारी द्वारा स्ट्रीट वेंडर राबिन विश्वास को दस हजार रूपये का ऋण वितरण पत्रक प्रदान किया गया। जिसमें मुख्य रूप से जिला अग्रणी बैंक के मुख्य प्रबंधक श्री विश्वजीत तिग्गा एवं निकाय क्षेत्रातंर्गत सभी बैंक शाखाओं के शाखा प्रबंधक, सिटी मिशन प्रबंधक श्री अभिषेक पंचबुद्धे एवं सहयोगी स्टॉफ भी मौजूद थे।

Show More

KR. MAHI

CHIEF EDITOR KAROBAR SANDESH

Related Articles

Back to top button