अमानक खाद्य पदार्थो की धरपकड़ के लिए चलित खाद्य प्रयोगशाला के माध्यम से जांच पड़ताल का सघन अभियान जारी

रायपुर/नामिका : राज्य शासन के निर्देशानुसार खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग द्वारा अमानक खाद्य पदार्थो के क्रय-विक्रय पर कड़ाई से रोक लगाने के लिए जांच पड़ताल का सघन अभियान संचालित किया जा रहा है। खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग की टीम खाद्य पदाथों में मिलावट एवं उनकी गुणवत्ता की जांच त्यौहारी सीजन को देखते हुए मौके पर पहुंचकर कर रही है। इसके लिए विभाग द्वारा चलित खाद्य प्रयोगशाला की मदद ली जा रही है। जिसके माध्यम से मौके पर ही सेम्पल लेकर खाद्य पदार्थ के मानक की जांच की जा रही है। 
    

खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग के टीम दुकानदारों को खाद्य पदार्थो के पैकेट पर विशेषकर मिठाईयों के निर्माण तिथि व बेस्ट बिफोर यूज की तिथि को अनिवार्य रूप से दर्शाए जाने की समझाईश दुकानदारों को दे रही है, ताकि उपभोक्ताओं के स्वास्थ्य की सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके। खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग का यह अभियान निरंतर जारी रहेगा। राज्य के जांजगीर-चांपा जिले में अब तक 77 मिठाइयों के सैंपल जांच की गई। जिसमें चार नमूने अमानक स्तर के पाए गए। जिन दुकानों के अमानक पाए गए है उनके विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही प्रस्तावित की गई। अधिकारियों की टीम निरंतर सेम्पल लेकर उसकी जांच पड़ताल में जुटी है।  

Show More

KR. MAHI

CHIEF EDITOR KAROBAR SANDESH

Related Articles

Back to top button