Ads

वैज्ञानिक दल ने धान के फसल का किया निरीक्षण : बीमारियों से बचाव के लिए दी जरूरी सलाह

बलरामपुर : कृषि विज्ञान केन्द्र बलरामपुर के कृषि वैज्ञानिक दल ने विकासखण्ड बलरामपुर के ग्राम पंचायत जाबर, अमडण्डा एवं रामनगर में किसानों द्वारा की गई धान की खेती का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने किसानों को बताया कि वर्तमान में धान का फसल पूर्ण बढ़वार हो चुका है तथा कुछ धान गभोट अवस्था में है। कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिक पाण्डु रा पैकरा ने बताया कि वातावरण में आर्द्रता बढ़ने के साथ फसलों में कीट एवं बीमारियों का प्रकोप देखने को मिल रहा है तथा लगतार वर्षा होने के पश्चात जीवाणु जनित झुलसा रोग फसलों में देखा गया है। उन्होंने किसानों को रोग के उपचार के लिए खेतों से पानी निकाल कर 10-15 किलो ग्राम पोटास प्रति एकड़ कि दर से उपयोग करने की सलाह दी है तथा सुरक्षात्मक दृष्टि से रासायनिक दवा स्ट्रेप्टोमाइसीन 12 ग्राम के साथ प्रोपीकोनाजोल 10.7 प्रतिशत, ट्राईसाइक्लाजोल 34.2 प्रतिशत, एसई 250 मिलीलीटर को प्रति एकड़ की दर से 150-200 लीटर पानी में घोलकर खेतों मे छिड़काव करने को कहा है।

Show More

KR. MAHI

CHIEF EDITOR KAROBAR SANDESH

Related Articles

Back to top button