बिकने जा रहा है ये सरकारी बैंक, संपत्ति को लेकर सरकार ने लिया ये फैसला, तैयारियां जोरों पर

नई दिल्ली/सूत्र: केंद्र सरकार ने आईडीबीआई बैंक की रणनीतिक बिक्री का फैसला किया है. इसके लिए सरकार ने बुधवार को बैंक के लिए परिसंपत्ति मूल्यांकनकर्ताओं से नया अनुरोध प्रस्ताव (आरएफपी) आमंत्रित किया है। आरएफपी जारी करते हुए, निवेश और सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग (दीपम) ने कहा कि परिसंपत्ति मूल्यांकनकर्ता 5 जनवरी तक अपनी बोलियां जमा कर सकते हैं। दीपम ने पिछले सप्ताह आईडीबीआई बैंक के लिए परिसंपत्ति मूल्यांकनकर्ता की नियुक्ति के लिए बोली प्रक्रिया रद्द कर दी थी। ऐसा बोलीदाताओं से अपेक्षित प्रतिक्रिया नहीं मिलने के कारण किया गया है।

मानदंडों की होगी समीक्षा

एक अधिकारी ने कहा था कि बोलीदाताओं से बेहतर रुचि हासिल करने के लिए कुछ बोली मानदंडों की समीक्षा के बाद जल्द ही एक नया आरएफपी आमंत्रित किया जाएगा। आवेदन करने वाले परिसंपत्ति मूल्यांकनकर्ताओं को भारतीय दिवाला और शोधन अक्षमता बोर्ड, सेबी या इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) के साथ पंजीकृत होना चाहिए।

सरकार बेच रही है इतनी हिस्सेदारी!

आपको बता दें कि सरकार एलआईसी के साथ मिलकर आईडीबीआई बैंक में करीब 61 फीसदी हिस्सेदारी बेच रही है. इसके लिए जनवरी में कई अभिरुचि पत्र (ईओआई) प्राप्त हुए थे। दीपम सचिव तुहिन कांत पांडे ने पिछले सप्ताह कहा था कि आईडीबीआई बैंक रणनीतिक बिक्री सौदा आगे बढ़ रहा है, लेकिन यह चालू वित्त वर्ष में पूरा नहीं होगा।

शेयर में दिखी तेजी

आईडीबीआई बैंक के शेयरों में आज तेजी देखने को मिली है। बैंक के शेयर आज बढ़त के साथ हरे निशान पर बंद हुए। फिलहाल आईडीबीआई बैंक के शेयर 61.95 रुपये के स्तर पर बंद हुए हैं। पिछले 5 दिनों से बैंक शेयरों में तेजी जारी है, इसमें 3 फीसदी से ज्यादा की बढ़ोतरी हुई है। पिछले 6 महीने में आईडीबीआई बैंक के शेयर 12 फीसदी से ज्यादा चढ़े हैं. पिछले एक साल में इसमें 15 फीसदी से ज्यादा की बढ़ोतरी हुई है।

Show More

KR. MAHI

CHIEF EDITOR KAROBAR SANDESH

Related Articles

Back to top button