टेक्नोलॉजी के व्यापक इस्तेमाल से प्रदेश में आयेगा बड़ा परिवर्तन: वित्त मंत्री

रायपुर : वित्त मंत्री ओपी चौधरी ने मंगलवार 13 फरवरी विधानसभा में बजट पर चर्चा के लिए पक्ष एवं विपक्ष की तरफ से चर्चा में शामिल सदस्यों के साथ ही सदन के सभी सदस्यों को अपनी तरफ से धन्यवाद ज्ञापित किया। वित्त मंत्री ने अपने धन्यवाद ज्ञापन में कहा की मैं बजट पर चर्चा में शामिल सभी साथियों को अपने सुझाव और अपनी बातें रखने के लिए धन्यवाद देता हूं।

वित्त मंत्री ने सदन को संबोधित करते हुए कहा की राज्य में मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय की सरकार बस्तर एवं सरगुजा पर फोकस करने के लिए पूरी तरह समर्पित है। उन्होंने कहा की सरगुजा एवं बस्तर को इको टूरिज्म एवं नेचुरोपैथी डेस्टिनेशन के रूप में विकसित करने का प्रयास किया जायेगा। बस्तर क्षेत्र में लघु वनोपज के प्रसंस्करण हेतु उद्योगों की स्थापना की जाएगी और समन्वित प्रयास करते हुए इन क्षेत्रों की आर्थिक संभावनाओं को मूर्त रूप दिया जाएगा।

वित्त मंत्री ने कहा की एक ओर हमारी सरकार गोंडी भाषा को आगे बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है तो दूसरी तरफ नया रायपुर को आईटी सेक्टर बनाने के लिए भी हम प्रतिबद्ध हैं,हम टेक्नोलॉजी के व्यापक इस्तेमाल करने की कोशिश करेंगे इससे प्रदेश में बड़ा परिवर्तन आएगा।

वित्त मंत्री ने नए जिलों के बारे में कहा की उन्हें यह जानकारी मिली है की बहुत से नए जिलों में कार्यालय, कॉलेज एवं मूलभूत सुविधाएं नहीं हैं। इन जिलों का विकास करने के लिए हम पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं।

श्री चौधरी ने सदन को संबोधित करते हुए कहा की यह विष्णु देव साय की सरकार है जिसने निर्णय लिया है कि 15 क्विंटल की जगह 21 क्विंटल प्रति एकड़ धान की खरीदी होगी। इसके लिए किसानों के हित में कृषक उन्नति योजना के तहत बजट में 12 हजार करोड़ का प्रावधान भी किया गया है। उन्होंने कहा की हमारी सरकार किसानों के लिए पूरी तरह समर्पित है और सदन में बैठे किसी भी व्यक्ति को किसानों की चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है।

Show More

KR. MAHI

CHIEF EDITOR KAROBAR SANDESH

Related Articles

Back to top button