जिले में संवाद 24*7 व्हाट्सएप चैटबॉट लॉन्च: अब जिलेवासियों की समस्याओं का जल्द होगा समाधान

गरियाबंद : कलेक्टर आकाश छिकारा के मार्गदर्शन में जिले में आज एक नए नवाचार का शुभारंभ हुआ। जिलेवासियों को अब घर बैठे वाट्सएप्प के माध्यम से भी अपनी मांगों, समस्याओं एवं सुझावों के निराकरण की सुविधा मिलेगी। कलेक्टर ने समय-सीमा की समीक्षा बैठक के दौरान चौबीसों घंटे सक्रिय वाट्सएप्प चैटबोट संवाद 24*7 का शुभारंभ किया।

इस चैटबोट के माध्यम से वाट्सएप्प नम्बर 9343300800 पर हाय या हेलो लिखकर मैसेज भेजने पर चैटबोट स्वतः ही उपयोगकर्ता से उनका नाम पता और सवाल पूछने लगता है। मैसेज में नाम इत्यादि की जानकारी दर्ज करने उपरांत किसी भी विभाग से संबंधित मांग, समस्या या सुझाव के बारे में जानकारी दर्ज करने का अवसर देता है। जानकारी दर्ज करने के पश्चात उपयोगकर्ता का समस्या-सुझाव सीधे संबंधित विभाग के पास पोर्टल के माध्यम से चला जाता है। साथ ही उपयोगकर्ता को इसकी पावती भी उसी वाट्सएप्प नम्बर पर स्वतः ही प्राप्त हो जाती है।

चैटबोट के माध्यम से प्राप्त समस्या, सुझावों को संबंधित विभाग द्वारा निराकरण किया जायेगा। साथ ही इसकी जानकारी उपयोगकर्ता को तय समय में दी जायेगी। चैटबोट प्रारंभ हो जाने से दूरस्थ क्षेत्रों में रहने वाले ग्रामीणों को कार्यालय जाए बिना ही किसी भी समस्या-सुझावों का निराकरण करवाने में सुविधा होगी। साथ ही बार-बार कार्यालय भी नहीं जाना पड़ेगा।

इस दौरान कलेक्टर श्री छिकारा ने कहा कि संवाद चैटबोट का उद्देश्य बिना परेशानी एवं भागदौड़ के लोगों की समस्याओं का समाधान करना है। चैटबोट से प्राप्त समस्याओं के निराकरण की लगातार मॉनिटरिंग भी की जाएगी। जिससे लोगों को तेजी से उनकी समस्याओं का समाधान मिल पायेगा। कलेक्टर ने जिलेवासियों से अपील करते हुए कहा कि संवाद चैटबोट के माध्यम से वाट्सएप्प नम्बर 9343300800 पर अपनी समस्याओं से जिला प्रशासन को जरूर अवगत कराये। जिससे उन्हें कार्यालय आने की जरूरत नहीं पड़ेगी और घर बैठे वाट्सएप्प के माध्यम से ही उनकी समस्याओं का समाधान हो जायेगा।

कलेक्टर ने सभी अधिकारी- कर्मचारियों को चैटबोट के माध्यम से प्राप्त शिकायतों का तय समय-सीमा में निराकरण करने के निर्देश दिये। इस दौरान अपर कलेक्टर अविनाश भोई, जिला पंचायत सीईओ श्रीमती रीता यादव सहित सभी जिला अधिकारी मौजूद रहे।

Show More

KR. MAHI

CHIEF EDITOR KAROBAR SANDESH

Related Articles

Back to top button