सॉफ्टवेयर इंजीनियरों के लिए स्वर्ग हैं ये 10 देश, यहां मिलती है सबसे ज्यादा सैलरी

नई दिल्ली/सूत्र: सॉफ्टवेयर उद्योग दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ते उद्योगों में से एक है। इसलिए सॉफ्टवेयर प्रोफेशनल्स की मांग भी तेजी से बढ़ रही है। भारत में भी तकनीकी क्षेत्र के छात्रों के लिए सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग पहली पसंद है। ऐसे में आज हम आपको दुनिया के टॉप 10 देशों के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां सॉफ्टवेयर इंजीनियरों को सबसे ज्यादा सैलरी दी जाती है।

हाल ही में वर्ल्ड ऑफ स्टेटिस्टिक्स ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर सॉफ्टवेयर इंजीनियर्स को सबसे ज्यादा सैलरी देने वाले देशों की एक लिस्ट जारी की है। अमेरिका दुनिया भर के सॉफ्टवेयर पेशेवरों के लिए सबसे पसंदीदा स्थलों में से एक है। यहां सॉफ्टवेयर इंजीनियरों को सबसे ज्यादा सैलरी मिलती है. वर्ल्ड ऑफ स्टैटिस्टिक्स की रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका में एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर की औसत सालाना सैलरी करीब 1.2 लाख डॉलर है।

सैलरी देने के मामले में दूसरे पायदान पर है आस्ट्रेलिया

सॉफ्टवेयर इंजीनियरों को सबसे ज्यादा सैलरी देने के मामले में अमेरिका के बाद ऑस्ट्रेलिया का नंबर आता है। यहां सॉफ्टवेयर इंजीनियरों को सालाना औसतन 1 लाख डॉलर का वेतन दिया जाता है। सॉफ्टवेयर इंजीनियरों की कमाई के मामले में स्विट्जरलैंड तीसरे स्थान पर है। यहां एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर की औसत सैलरी 95 हजार डॉलर है।

इजराइल में सॉफ्टवेयर इंजीनियरों को औसतन 80 हजार डॉलर वेतन मिलता है

सॉफ्टवेयर इंजीनियरों के लिए सबसे ज्यादा वेतन वाले देशों में इजराइल चौथे स्थान पर है, जहां सॉफ्टवेयर पेशेवरों को प्रति वर्ष औसतन 80 हजार डॉलर का भुगतान किया जाता है। सॉफ्टवेयर इंजीनियरों की कमाई के मामले में डेनमार्क पांचवें स्थान पर है। यहां एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर की औसत सैलरी 75 हजार डॉलर है।

Show More

KR. MAHI

CHIEF EDITOR KAROBAR SANDESH

Related Articles

Back to top button