डीएमएफ मद से जिले की 40 स्कूलों को 16 हजार किताबें वितरित

सुखसागर/बलौदाबाजार :  जिला प्रशासन द्वारा खनिज न्यास निधि (डीएमएफ) मद से जिले की 40 स्कूलों में लगभग 16 हजार किताबें उपलब्ध कराई गई हैं। राज्यसभा सांसद श्रीमती छायाा वर्मा ने आज यहां जिला पंचायत के सभाकक्ष में स्कूल के प्राचार्यों को पुस्तकें वितरित करते हुए प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया। श्रीमती वर्मा ने कहा कि सोशल मीडिया और फेसबुक के युग में लोगों की पुस्तकों से दूरी बढ़ती जा रही है। इस दूरी को पाटने के लिए अनोखी एवं अनुकरणीय पहल की गई है। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला अध्यक्ष श्री हितेन्द्र ठाकुर ने की। समारोह में विशेष अतिथि के रूप में जिला पंचायत अध्यक्ष श्री राकेश वर्मा, उपाध्यक्ष श्रीमती सरिता ठाकुर, पूर्व विधायक श्री जनकराम वर्मा और जिला पंचायत सदस्य श्री परमेश्वर यदु उपस्थित थे।

मुख्य अतिथि की आसंदी से श्रीमती वर्मा ने कहा कि बच्चों को स्कूली पाठ्यक्रम के बाहर भी अध्ययन-अध्यापन की आदतें विकसित करना जरूरी ।उन्होंने कहा कि इससे विद्यार्थियों में संस्कार निर्माण के साथ ही देश-दुनिया की जानकारी मिलेगी और ज्ञान का दायरा बढ़ेगा। बच्चों को पुस्तकीय ज्ञान के अलावा बच्चों के सामान्य ज्ञान में वृद्धि हो, इसके लिए प्रदाय की गई पुस्तकों का अध्ययन करना नितांत आवश्यक है। इसके प्रतिफल में छात्र-छात्राओं में बढ़ती हुई  नशे की प्रवृत्ति पर भी नियंत्रण होगा और उन्हें संस्कार युक्त शिक्षा प्राप्त होगी। जिला पंचायत अध्यक्ष श्री राकेश वर्मा ने कहा कि बच्चे इन पुस्तकों का अध्ययन कर नया ज्ञान सृजित करेंगे और विकास की उंचाईयों को छुएंगे। उन्होंने कहा कि केवल भौतिक विकास ही संपूर्ण विकास नहीं हैं। पुस्तकों के माध्यम से अर्जित ज्ञान उन्हें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करेगा। 

समारोह को वरिष्ठ अधिवक्ता एवं साहित्यकार श्री भूपेन्द्र सिंह ठाकुर ने भी सम्बोधित किया। उन्होंने कहा कि राष्ट्र का विकास मातृभाषा से ही सम्भव है। हिन्दी भाषा को बढ़ावा देने के लिए हम अपना अक्षुण्ण सहयोग प्रदान करें। यही हमारा गौरव और अभिमान है। राजकमल प्रकाशन समूह के सीओओ श्री मुकेश कुमार ने कहा कि यह कार्यक्रम राष्ट्रभाषा हिन्दी एवं हिन्दी साहित्य के प्रचार-प्रसार एवं विकास हेतु आयोजित किया गया है। पुस्तक वितरण सम्मान समारोह के माध्यम से यह प्रयास किया गया है कि संबंधित स्कूलों को हिन्दी साहित्य से संबंधित महान रचनाकारों की कृतियों से समृद्ध लाईब्रेरी उपलब्ध हो जाये। कार्यक्रम में अतिथियों का स्वागत परम्परांगत पुष्प गुच्छ से नहीं वरन् पुस्तक भंेटकर किया गया। कार्यक्रम का सफल संचालन हमेशा की तरह प्राचार्य श्री के.एस.तिवारी ने किया। आभार ज्ञापन जिला शिक्षा अधिकारी श्री सी.एस.धु्रव ने किया। जिला पंचायत सीईओ फरिहा आलम सिद्धिकी एवं संयुक्त कलेक्टर एवं डीएमएफ प्रभारी श्री बजरंग दुबे भी इस अवसर पर उपस्थित थे। 

उल्लेखनीय है कि डीएमएफ योजना के अंतर्गत इस वर्ष जिले की 40 स्कूलों को किताबें वितरित की गई हैं। प्रत्येक स्कूल को 50 हजार रूपये की लागत से लगभग 400 किताबें शामिल हैं। इसमेंएमडीव्ही स्कूल बलौदाबाजार सहित लवन, लटुवा, डमरू, रसेड़ा,अहिल्दा, सरखोर, पैजनी, गिंदोला, करमदा, भालूकोना, तुरमा, ताराशिव, मोपका, मोपर, अर्जुनी, रवान, खैंदा ड, खटियापाटी, धाराशिव,कोहरौद, लाहौद, बरदा, मरदा, कोयदा, पनगांव, जिला ग्रंथालय बलौदाबाजार, आईटीआई संकरी, मोपका, गुर्रा, खैरा, तरंेगा, करहीबाजार, कोदवा, खोखली, कोटमी, शिवलाल मेहता भाटापारा, पंचम दीवान भाटापारा, निपनिया, खपरी और छेरकापुर शामिल हैं। 

Show More

KR. MAHI

CHIEF EDITOR KAROBAR SANDESH

Related Articles

Back to top button